अमेरिका अफगानिस्तान से 5000 सैनिकों को वापस बुलाने की तैयारी में: रिपोर्ट


वॉशिंगटन। अमेरिका तालिबान के साथ शुरुआती शांति समझौते के तहत अफगानिस्तान से अपने 5000 से अधिक सौनिकों को वापस बुलाने की तैयारी कर रहा है। एक मीडिया रिपोर्ट में यह बात कही गई लेकिन व्हाइट हाउस ने इस रिपोर्ट पर तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की। बाद में, प्राधिकारियों ने इस बात से इनकार किया और कहा कि अमेरिकी सैनिकों की मौजूदगी ''परिस्थितियों पर आधारित'' है। 'द वॉशिंगटन पोस्ट' ने एक अमेरिकी अधिकारी के हवाले से बृहस्पतिवार को बताया कि ट्रम्प प्रशासन अफगानिस्तान में सैन्य बलों की संख्या 14000 से कम करके 9000 या 8000 करने की तैयारी कर रहा है। समाचार पत्र के अनुसार प्रारंभिक समझौते के तहत तालिबान को अफगानिस्तान सरकार के साथ एक बड़े शांति समझौते पर सीधे वार्ता आरंभ करनी होगी। हालांकि पेंटागन ने एक प्रवक्ता ने इस बात से इनकार करते हुए 'द वॉशिंगटन पोस्ट' से कहा कि रक्षा मंत्रालय को अफगानिस्तान से बलों की वापसी का आदेश नहीं दिया गया है। विदेश मंत्रालय ने एक प्रवक्ता ने 'पीटीआई' से कहा, ''रेजॉल्यूट सपोर्ट या रक्षा मंत्रालय ही इस मामले पर अधिक अधिकार से बात कर सकता है। हमने अफगानिस्तान सरकार या तालिबान के साथ हमारी वार्ताओं के संदर्भ में वहां हमारे रक्षा बलों को संख्या में बदलाव नहीं किया है।'' उन्होंने कहा कि पिछले वर्षों में बलों की संख्या में बदलाव परिस्थितियों के आधार पर किया गया है और आगे भी ऐसा ही होगा।