पाकिस्तानी कमांडो कच्छ के रास्ते भारत में घुसपैठ कर सकते हैं, कांडला पोर्ट की सुरक्षा बढ़ाई गई

गांधीनगर. गुजरात के कांडला बंदरगाह पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, खुफिया इनपुट मिली है कि पाकिस्तानी कमांडो गुजरात में कच्छ के रास्ते भारत में घुस सकते हैं। उनके द्वारा यहां सांप्रदायिक हिंसा फैलाने या आतंकवादी हमला करने की संभावना है। इनपुट के बाद अन्य सुरक्षा एजेंसियों के साथ बीएसएफ और भारतीय तटरक्षक बलों को हाई अलर्ट कर दिया गया है।


पुलिस महानिदेशक ( बॉर्डर रेंज) बी वाघेला ने कहा कि हमें संभावित आतंकवादियों के बारे में इनपुट मिले हैं। इसे देखते हुए कच्छ जिले में सभी महत्वपूर्ण जगहों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। 21 अगस्त को न्यूज एजेंसी ने बताया था कि पाकिस्तानी सेना ने गुजरात में सर क्रीक क्षेत्र में अपने विशेष सेवा समूह (एसएसजी) कमांडो तैनात किए हैं।


कमांडो का इस्तेमाल भारत विरोधी गतिविधियों के लिए हो सकता है


सरकार के सूत्रों ने बताया था कि एसएसजी कमांडो को जिस पद पर तैनात किया गया है उसे इकबाल-बाजवा के नाम से जाना जाता है। एसएसजी कमांडो का इस्तेमाल क्षेत्र में भारत विरोधी गतिविधियों के लिए किया जा सकता है। एसएसजी कमांडो को बॉर्डर एक्शन टीम्स (बैट) का एक हिस्सा भी कहा जाता है। पाकिस्तान द्वारा यह कार्रवाई जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के कारण किया जा रहा है।