सरकार को संसद की कोई परवाह नहीं, विपक्ष का विश्वास तोड़ा: कांग्रेस

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने बुधवार को सरकार पर विधेयकों को लाने को लेकर विपक्ष को विश्वास में नहीं लेने का आरोप लगाया और दावा किया कि इस सरकार को लोकतंत्र एवं संसद की कोई परवाह नहीं है। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, यह सरकार अपने किसी भी वायदे पर खरा नहीं उतरती। जबसे ये सत्र शुरु हुआ, तबसे इस सरकार ने कोई भी विधेयक स्थायी समिति या प्रवर समिति के पास नहीं भेजा। ऐसा कभी नहीं हुआ।  उन्होंने दावा किया, इसका कारण ये है कि ये सरकार ना तो लोकतंत्र की कोई परवाह करती है और ना ही संसद की कोई परवाह करती है। उसे न्यायपालिका की भी कोई परवाह नहीं है। तीन तलाक विरोधी विधेयक और अन्य विधेयकों के संदर्भ में आजाद ने यह भी दावा किया कि इस सरकार में विपक्ष को पता ही नहीं होता कि कौन सा विधेयक आने वाला है। पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने आरोप लगाया कि सरकार ने विपक्ष के साथ विश्वास के रिश्ते को तोड़ने का काम किया है।