बालाकोट में फिर से सक्रिय हुए आतंकी कैंप, घुसपैठ की कोशिश में हैं 500 आतंकवादी: सेना प्रमुख


नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने बड़ा बयान दिया है। आर्मी चीफ ने कहा है कि बालकोट में आतंकवादी फिर से सक्रिय हो गए है। चेन्नई में एक कार्यक्रम में सेना प्रमुख ने कहा कि भारत के एयरस्ट्राइक में बालाकोट आतंकवादी शिविरों को ध्वस्त कर दिया गया था। लेकिन पिछले आठ महीनों में पाकिस्तान इस जगह पर फिर से आतंकी गतिविधियां करने लगा है। बता दें पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद 46 सीआरपीएफ जवानों की शहादत का बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में आतंकवादी शिविरों पर एयर स्ट्राइक की थी। इस स्ट्राइक में जैश के ट्रेनिंग कैंप को तबाह कर दिया गा था। रावत से जब फिर से एयरस्ट्राइक जैसे ऑपरेशन को अंजाम दिए जाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हम एयरस्ट्राइक को ही रिपीट क्यों करेंगे। इससे आगे क्यों नहीं जा सकते हैं। जनरल बिपिन रावत ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवादियों को हमारे क्षेत्र में भेजने के लिए संघर्ष विराम का उल्लंघन करता है। हम संघर्ष विराम उल्लंघन से निपटना जानते हैं। हमारे सैनिकों को पता है कि कैसे खुद को स्थिति में रखना और कार्रवाई करना है। हम सतर्क हैं और यह सुनिश्चित करेंगे कि अधिकतम घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम कर दिया जाए। सेना प्रमुख ने कहा कि कम से कम 500 आतंकवादी घुसपैठ की कोशिश में हैं।