हरदोई में दलित युवक को जलाने की घटना, मायावती ने की कड़ी निंदा


लखनऊ। हरदोई जिले में दलित युवक को कथित तौर पर जिंदा जलाने की घटना की कड़ी निंदा करते हुए बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने बुधवार को मांग की कि दोषियों को तुरन्त सख्त सजा दी जाए ताकि इस घटना की पुनरावृति ना हो सके। मायावती ने ट्वीट किया, हरदोई में प्रेम-संबंधों को लेकर जाति के नाम पर एक दलित युवक को जिन्दा जला देना अति-क्रूर तथा अति निन्दनीय है। सरकार इसके दोषियों को तुरन्त सख्त सजा दिलाये ताकि इस घटना की पुनरावृति ना हो। रविवार को हरदोई कोतवाली नगर क्षेत्र में कथित प्रेम प्रसंग और पुरानी रंजिश के चलते एक युवक की पिटाई की गई और पेट्रोल डालकर उसे आग लगा दी गयी थी। इस घटना में युवक की मौत हो गयी थी। पुलिस ने सोमवार को बताया था कि कोतवाली शहर के भदैचा का रहने वाला अभिषेक उर्फ मोनू (25) अपनी बीमार मां के इलाज के लिए पैसों का इंतजाम कर गांव लौट रहा था। राह में कुछ लोगों ने उससे 25 हजार रुपये छीन लिए, उसकी पिटाई की और उस पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। मोनू को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से डॉक्टरों ने उसे लखनऊ मेडिकल कालेज ले जाने को कहा लेकिन पीड़ित ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। युवक की मौत की खबर मिलने पर उसकी मां की भी सदमे से मौत हो गई। एसपी आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि युवक को संदिग्ध हालत में आग से झुलसा हुए पाया गया था। बताया जाता है कि युवक के एक युवती से प्रेम संबंध थे।