संतोष गंगवार के बेरोजगार युवाओं को लेकर दिए गए बयान पर भाजपा से भी विरोध के उठे स्वर


मेरठ। केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार के बेरोजगार युवाओं को लेकर दिए गए बयान पर विपक्ष के बाद उनकी ही पार्टी के अंदर से भी विरोध के स्वर उठने लगे हैं। भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के उत्तर प्रदेश इकाई केअध्यक्ष विनीत अग्रवाल शारदा ने इस बयान को युवाओं का अपमान करार दिया है। शारदा ने ट्वीट करके केंद्रीय मंत्री को आड़े हाथों लिया। उन्होंने लिखा,'' संतोष गंगवार जी आपके द्वारा दिया गया यह बयान उचित नहीं है। आपको मैं बहुत समझदार नेता मानता था, आपने भारत के युवाओं का अपमान किया है। यह हमारी सरकार और हमारी पार्टी की सोच नहीं है।''भाजपा नेता ने कहा कि गंगवार को देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से कुछ सीखना चाहिए। हालांकि आलोचनाओं के बाद गंगवार ने अपने बयान पर सफाई दी है। उन्होंने कहा, ''मेरे बयान को गलत तरीके से पेश किया गया। मैंने जो कहा था उसका अलग संदर्भ था। देश में कौशल (स्किल) की कमी है और सरकार ने इसके लिए कौशल विकास मंत्रालय भी खोला है। इस मंत्रालय का काम नौकरी के हिसाब से बच्चों को शिक्षित करना है।''