बांग्लादेश में प्याज 100 रुपए, श्रीलंका में 117 रु किलो हुआ


नई दिल्ली. भारतीय प्याज पर निर्भर कुछ एशियाई देशों में प्याज के रेट दोगुने हो गए। बांग्लादेश की राजधानी ढाका में प्याज की कीमत 120 टका (100 रुपए) किलो पहुंच गई। यह 15 दिन पहले के मुकाबले दोगुनी है और दिसंबर 2013 के बाद सबसे ज्यादा है। श्रीलंका के प्रमुख शहरों में कीमतें 300 श्रीलंकाई रुपए (117 भारतीय रुपए) प्रति किलो पहुंच चुकी हैं। वहां एक हफ्ते में प्याज 50% महंगा हो गया। दिल्ली समेत कई इलाकों में प्याज का भाव 70-80 रुपए किलो तक पहुंचने की वजह से सरकार ने पिछले रविवार को प्याज के निर्यात पर रोक लगा दी थी।




  1. भारतीय प्याज के निर्यात पर रोक के बाद बांग्लादेश ने म्यांमार, ईजिप्ट, तुर्की और चीन से सप्लाई बढ़ाई है। लेकिन, भारतीय प्याज पर निर्भरता इतनी ज्यादा है कि भरपाई करना मुश्किल होगा। बीते वित्त वर्ष में भारत ने दुनियाभर में 22 लाख टन प्याज निर्यात किया था। इसमें से आधे से भी ज्यादा निर्यात एशियाई देशों को हुआ था।


     




  2.  


    चीन और ईजिप्ट जैसे देशों के मुकाबले भारत से निर्यात में कम समय लगने की वजह से एशियाई देश भारतीय प्याज पर ज्यादा निर्भर हैं। बांग्लादेश के कारोबारियों का कहना है कि दूसरे देश भारतीय प्याज पर रोक का फायदा उठा रहे हैं। वे ज्यादा कीमत मांग रहे हैं। ईजिप्ट से सप्लाई में 1 महीना और चीन से 25 दिन लगते हैं। इनके मुकाबले भारत से प्याज आने में काफी कम समय लगता है।


     




  3.  


    मौजूदा संकट को देखते हुए बांग्लादेश सरकार सस्ती दरों पर प्याज बेच रही है। सरकारी कंपनी ट्रेडिंग कॉर्पोरेशन ऑफ बांग्लादेश के प्रवक्ता हुमायूं कबीर कहना है कि आयात के सभी विकल्पों पर विचार किया जा रहा है। कम से कम समय में प्याज मंगवाने का लक्ष्य है।