दुष्यंत पर सीएम खट्‌टर का तंज: फेल होने के बाद भी सीएम बनने के सपने देख रहा है गप्पू

जींद। उचाना विधानसभा में प्रेमलता के लिए चुनाव प्रचार करने पहुंचे सीएम मनोहर लाल खट्टर ने दुष्यंत चौटाला पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने नाम लिए बगैर कहा कि यह लोकतंत्र है और ऐसे में कई पार्टियां अपने-अपने ढंग से चुनाव प्रचार में लगी हैं। कोई पार्टी झूठ बोलेगी तो कोई सच बोलेगी। इन लोगों ने एक झूठ का पुलिंदा बना अब फैंकना शुरू कर दिया है। 


मुख्यमंत्री ने जजपा पार्टी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि चश्मा से टूट कर कभी ताला चाबी बन जाते हैं तो कभी खड़ाऊ बन जाते हैं। कभी कप प्लेट बन जाते हैं। ये लोग चलते-चलते घूमते-घूमते ड्रामा कर रहे हैं। फेल होने के बावजूद भी ड्रामा करते हैं कि वो सीएम बनेंगे। उन्होंने कहा कि इनके छोटे युवराज (दिग्वजय) को जींद में जनता ने फेल कर दिया। दूसरे बड़े (दुष्यंत) को हिसार लोकसभा में फेल कर दिया। फेल होने के बाद भी यही कहते हैं कि वो सीएम बनेंगे। 


इनका सीएम से नीचे तो कोई सपना ही नहीं है। उन्होंने सलाह दी कि वो आकाश में न उड़ें, जमीन पर पैर रखे रहें। जमीन पर रहेंगे तो पकड़ बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि ये लोग झूठ बोलने में माहिर हैं। खांडा खेड़ी में कहा कि अपनो-अपनो को नौकरी दे रहे हैं। गांव में कहा कि 70 लोगों को नौकरी दी, पता करवाया तो केवल 11 लोगों को ही नौकरी मिली है। उन्होंने उनकी बुद्धि की दाद दी। 11 को अगर 74 बोलेंगे तो इससे बड़ा गप्पू हो ही नहीं सकता है कोई।


पहले पप्पू अब गप्पू पैदा हो गया
पहले हम कांग्रेस के पप्पू को ढोते रहे और अब यह गप्पू नया पैदा हो गया है। जनता को इस गप्पू की बातों में नहीं आना है। ऐसे लोगों की बात नहीं माननी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने एक लाख 20 हजार करोड़ रुपये का चिट्ठा सबके सामने रखा लेकिन उनके बजट में ऐसा नहीं है। वो ऐसा करेंगे जो वो कर सकेंगे। वो झूठ नहीं बोलेंगे और कम घोषणा करेंगे ताकि उन्हें पूरा किया जा सके। भाजपा के घोषणा पत्र में हर वर्ग का ध्यान रखा गया है।