गांधी जी की 150वीं जयंती पर रिहा किये गए 611 कैदी


नयी दिल्ली। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य पर ''विशेष क्षमा'' योजना के तहत इस हफ्ते देशभर की जेलों से 600 से अधिक कैदियों को रिहा किया गया। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। दो अक्टूबर को 611 कैदियों की रिहाई के साथ ही पिछले एक वर्ष में इस योजना के तहत रिहा होने वाले कैदियों की कुल संख्या बढ़कर 2,035 हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विशिष्ट श्रेणी के कैदियों को विशेष माफी दिये जाने और उन्हें तीन चरणों में- दो अक्टूबर, 2018, छह अप्रैल, 2019 और दो अक्टूबर 2019 को जेलों से रिहा करने का 18 जुलाई, 2018 को निर्णय लिया था। केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि यह गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में किया गया है। इस योजना के पहले चरण में, पिछले साल दो अक्टूबर को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने 919 कैदियों को रिहा किया था।


दूसरे चरण में, इस साल छह अप्रैल को, 505 कैदियों को रिहा किया गया था। बुधवार को योजना के तीसरे चरण में, 611 कैदियों को जेलों से रिहा किया गया। अधिकारियों ने बताया कि राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को परामर्श जारी किया गया था कि कैदियों की रिहाई से पहले सभी जेलों में महात्मा गांधी के विचारों पर आधारित सप्ताह भर के विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। उन्हें माल्यार्पण के लिए कैदियों को महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास ले जाने और उन्हें राष्ट्रपिता से संबंधित किताबें उपहारस्वरूप देने की सलाह दी गई थी।