जयपुर को पूरे देश में सबसे साफ रेलवे स्टेशन का खिताब, दूसरे स्थान पर खिसका जोधपुर

जयपुर/जोधपुर. रेलवे ने बुधवार को 720 स्टेशनों की स्वच्छता सर्वे रेंकिंग जारी की।  इसमें राजस्थान की राजधानी जयपुर के रेलवे स्टेशन को पहला स्थान मिला है। दूसरे नंबर पर जोधपुर और तीसरे नंबर पर जयपुर जिले का दुर्गापुरा रेलवे स्टेशन है। खास बात यह है कि टॉप थ्री में जहां तीनों स्टेशन राजस्थान के हैं। वहीं, टॉप टेन में भी राजस्थान के 7 स्टेशनों ने कब्जा जमाया है। पिछले साल की रैंकिंग में जोधपुर पहले जबकि जयपुर दूसरे पायदान पर था। 


जयपुर और जोधपुर के बीच महज 4.56 अंक का अंतर


जयपुर को कुल मिलाकर 931.75 और जोधपुर को 927.19 अंक मिले। हालांकि सिटीजन फीडबैक में जोधपुर ने जयपुर के 332.15 की अपेक्षा 332.23 अंक हासिल किए। लेकिन, जोधपुर प्रोसेस एव्यूलेशन में 4 अंक से पिछड़ गया और इसी कारण जोधपुर देश भर में अपने पहले नंबर की रैंक गंवा बैठा। प्रोसेस एव्यूलेशन में यह देखा जाता है कि रेलवे स्टेशन पर सफाई की क्या आधारभूत सुविधाएं है और इनका किस तरह से उपयोग किया जा रहा है।


उपनगर स्टेशन में अंधेरी टॉप पर


रेलवे ने पहली बार स्वच्छता सर्वे रैंकिंग में उपनगर स्टेशनों को भी शामिल किया। देशभर के 190 उपनगर स्टेशन की रैंकिंग में मुंबई का अंधेरी स्टेशन टॉप पर रहा। जबकि दूसरे पायदान पर विरार और तीसरे पायदान पर नयागांव स्टेशन रहा है। रेलवे ने यह सर्वेक्षण थर्ड पार्टी से पार्टी कराया था। 2016 से ही रेलवे 407 बड़े स्टेशनों का सर्वे करता आ रहा है। लेकिन इस बार अपना दायरा बढ़ाते हुए रेलवे ने 720 स्टेशनों में स्वच्छता सर्वे कराया था। इसमें उपनगर स्टेशनों को भी शामिल किया गया।


उत्तर-पश्चिम जोन टॉप पर 
स्वच्छता के आधार पर रेलवे ने अपने 17 जोन की भी रैंकिंग तैयार की है। इसमें उत्तर पश्चिम रेलवे टॉप पर रहा है। जबकि दक्षिण-पूर्व मध्य रेलवे दूसरे और पूर्व मध्य रेलवे तीसरे स्थान पर रहा है।