मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह के मामले में 24 अक्टूबर से रोजाना होगी सुनवाई


इस्लामाबाद। पाकिस्तान में मंगलवार को एक विशेष अदालत ने कहा कि पूर्व सैन्य तानाशाह परवेज मुशर्रफ के खिलाफ चल रहे देशद्रोह के मामले में रोजाना सुनवाई 24 अक्टूबर से होगी क्योंकि मुशर्रफ के वकील डेंगू से पीड़ित हैं। न्यायाधीश वकार अहमद सेठ के अध्यक्षता वाले तीन सदस्यीय न्यायाधिकरण ने सभी पक्षों को अगली सुनवाई से पहले अपनी दलीलें लिखित में देने का निर्देश दिया है। पीठ ने पिछले महीने 75 वर्षीय मुशर्रफ पर 8 अक्टूबर से रोजाना सुनवाई करने का निर्णय लिया था। लेकिन मुशर्रफ के वकील ने मंगलवार को बीमारी का हवाला देकर सुनवाई दो हफ्ते बाद करने की अर्जी दाखिल की थी। अदालत ने अर्जी स्वीकार करते हुए कहा कि 24 अक्टूबर से रोजाना सुनवाई होगी। पूर्ववर्ती पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (पी एम एल- एन) की सरकार ने 2013 में मुशर्रफ पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया था। उन पर 2007 में असंवैधानिक रूप से देश में आपातकाल लगाने के सिलसिले में मामला दर्ज किया गया था। आपातकाल में कई वरिष्ठ न्यायाधीशों को घर में नजरबंद कर दिया गया था और 100 से अधिक न्यायाधीशों को पद से हटा दिया गया था। मुशर्रफ 2016 में दुबई चले गए थे जिसके बाद उनके ऊपर चल रहे मामले में कोई खास प्रगति नहीं देखी गई थी। तभी से उन्होंने पाकिस्तान वापसी नहीं की है और फिलहाल बीमार चल रहे हैं।