फ्यूल सरचार्ज की नई दरें 3 महीने बाद तय हाेने से नहीं बढ़ेगा बिल

पानीपत. चुनावी माहाैल में बिजली निगम ने भी अपने उपभाेक्ताअाें काे 2 ताेहफे दिए हैं। सबसे बड़ा ताेहफा ताे हाल फिलहाल में बिजली बिलाें में बढ़ाेतरी नहीं करने वाला है। 3 महीने तक फ्यूल सरचार्ज (एफएसए) की नई दरें लागू नहीं हाेंगी। इस कारण अभी फ्यूज सरचार्ज प्रति यूनिट 37 पैसे ही रहेगा। इससे पानीपत सर्कल के 2.85 लाख उपभाेक्तओं काे राहत मिलेगी।



उत्तर हरियाणा बिजली निगम ने एक बार फिर फ्यूल सरचार्ज (एफएसए) में वृद्धि के प्रस्ताव को टाल दिया है। निगम के इस फैसले के अनुसार उपभोक्ताओं काे अगला आदेश आने तक पहले की तरह ही 37 पैसे प्रति यूनिट की दर से ही एफएसए वहन करना हाेगा। बिजली की खपत पर लगने वाले एफएसए में 2 सालाें से कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। बल्कि 2017 से लगातार घट ही रहा है।


इस तरह से घटे रेट
2017 से पहले प्रति यूनिट 1.30 रुपए प्रति यूनिट था। अप्रैल 2017 में घटाकर 65 पैसे कर दिया। नवंबर 2017 में फिर घटाकर 37 पैसे प्रति यूनिट कर दिया गया। चालू वित्त वर्ष में हरियाणा इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन ने बढ़ोतरी का प्रस्ताव रखा गया था, लेकिन स्वीकार नहीं किया गया।


कटौती का समय : मरम्मत के लिए एक ही समय सुबह 10 से दाेपहर 2 बजे तक
बिजली निगम ने शहर के सभी फीडराें की मरम्मत दीपावली से पहले ही पूरी करने की याेजना बनाई है। इसी कारण राेजाना 20 से ज्यादा फीडराें पर मरम्मत की जा रही है। मरम्मत के लिए एक ही समय सुबह 10 से दाेपहर 2 बजे तक रखा है। इससे पहले बिजली निगम के एमडी शत्रुजीत कपूर ने फीडराें व लाइनाें की मरम्मत का दिन बुधवार व शनिवार तय किया था। पानीपत सर्कल के सिटी डिविजन के एक्सईएन संजीव शर्मा का कहना है कि दीपावली की पूरी रात जगमग रहे, इससे एक-दाे दिन पहले अाैर बाद में बिजली जाए। इसी उद्देश्य से अब हर दिन फीडराें व लाइनाें की मरम्मत की जा रही है। दीपावली के बाद बुधवार व शनिवार तय हाेने की उम्मीद है।