सावधान, भारत में भी 'Corona Virus' संकट, कई राज्यों में मिले संदिग्ध

नई दिल्ली। चीन में कहर मचाने वाला Corona Virus भारत में भी अपने पैर पसारता दिखाई दे रहा है। नई दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण की आशंका में तीन लोगों को आरएमएल अस्पताल के अलग वार्ड में निगरानी में रखा गया है। दिल्ली के साथ ही बिहार, राजस्थान, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में इस संक्रमण से निपटने के लिए भारत की तैयारियों की समीक्षा की गई। चीन में कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण अब तक 106 लोगों की मौत हो चुकी है और 2,744 लोगों के इससे संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। चीन से लौटकर आई बिहार की युवती और उसके बाद जयपुर में कोरोना वायरस के लक्षण होने की आशंका के चलते उत्तरप्रदेश सरकार किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरतना चाहती है। कोरोना वायरस ने लगता है कि मप्र में भी अपने पैर पसार लिए हैं। खबर मिली है कि मप्र के उज्जैन में एक मेडिकल छात्र में कोरोना वायरस के संदिग्ध लक्षण पाए गए हैं। उसके खून के सैंपल लेकर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआईवी) पुणे भेजे गए हैं और 1-2 दिन के भीतर रिपोर्ट आने की उम्मीद है। छात्र चीन के वुहान में MBBS की पढ़ाई कर रहा था।


नई दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, चेन्नई, बेंगलुरु, हैदराबाद और कोच्चि के हवाई अड्डों पर थर्मल स्क्रीनिंग पहले से ही की जा रही है। हैदराबाद में तीन लोगों को चिकित्सकीय निगरानी में रखा गया है जिन्होंने चीन की यात्रा की थी। हालांकि उनमें इस वायरस के लक्षण नहीं हैं।


चीन से लौटकर आई बिहार की युवती और उसके बाद जयपुर में कोरोना वायरस के लक्षण होने की आशंका के चलते उत्तरप्रदेश सरकार किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरतना चाहती है। कोरोना वायरस के संक्रमण के संदेह में पुणे तथा मुंबई में अब तक छह लोगों को चिकित्सकीय निगरानी में रखा गया


 


महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश में भी संदिग्ध मिले हैं।